Responsive Ad Slot

ताजा खबर

latest

दो लग्जरी वाहनों को संदेह के आधार पर पुलिस ने किया जप्त

Monday, September 23, 2019

/ by News Anuppur

चार आरोपियों से नगद 58 हजार जप्त, नाकेबंदी कर पकड़ा गया वाहनों को 
वेंकटनगर। जैतहरी थाना क्षेत्र में पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर दो लग्जरी वाहनों को संदेह के आधार पर नाकाबंदी कर रोका गया। जहां दोनो वाहनों की चेकिंग के दौरान वाहन में किसी भी तरह की संदिग्ध वस्तु नहीं पाई गई। जिसके बाद पुलिस ने दोनो वाहनो के मालिकाना हक एवं वाहन से संबंधित दस्तावेज मौके पर मांगे गए लेकिन दोनो चालकों ने किसी भी तरह का दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किया। जिसके बाद पुलिस ने चोरी के वाहन के संदेह पर पकड़े गए चारो आरोपी जिनमें चैन सिंह पिता दलबीर सिंह उम्र 28 वर्ष निवासी गजवाही थाना पाली, विकास जायसवाल पिता बीरेन्द्र जायसवाल उम्र 27 वर्ष निवासी देवगईं थाना खैरहा जिला शहडोल, संजय कोल पिता रूपा प्रसाद उम्र 30 वर्ष निवासी लाईन दफाई भालूमाड़ा एवं केशव प्रसाद राठौर पिता स्व0 कुलवा राठौर निवासी लखनवई लालपुर थाना गौरेला के खिलाफ धारा 41(1, 4)/379 के तहत मामला पंजीबद्ध करते हुए चारो आरोपियों के पास से नगद 58 हजार एवं 3 नग मोबाइल जप्त करते हुए 23 सितम्बर को न्यायालय में पेश किया गया।
यह है मामला
वेंकटनगर चैकी प्रभारी विरेन्द्र तिवारी ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि 21 सितम्बर को मुखबिर से सूचना मिली कि वाहन क्रमांक एमपी 54 टी 0257 एवं  एमपी 65 टी 3170 जो कि संदिग्ध हैं, जो बिलासपुर से अनूपपुर की ओर आ रही है। सूचना मिलते ही 21 सितम्बर की शाम 4 बजे से वेंकटनगर चैकी प्रभारी ने तत्काल ही अपने वरिष्ठ अधिकारियों को जानकारी देकर पूरे मामले से अवगत कराया। जिसके बाद वेंकटनगर चैकी के सामने वेंकटनगर पुलिस ने नाकेबंदी की, वहीं जैतहरी थाना प्रभारी के.एस. ठाकुर एवं उप निरीक्षक हरिशंकर शुक्ला सहित अन्य पुलिस स्टाॅफ ने खूंटाटोला में नाकेबंदी की गई। जहां दूसरे दिन 22 सितम्बर तक लगातार चली नाकेबंदी में दोपहर लगभग 1 बजे दोनो वाहन चैकी के सामने पुलिस को देख दोनो वाहन के चालक भागने के प्रयास किए, जहां सूचना खूंटाटोला में लगे नाकेबंदी में दी गई। जहां पुलिस ने दोनो वाहनों को पकड़ लिया।
58 हजार नगद के साथ चार आरोपी गिरफ्तार
नाकेबंदी के दौरान पकड़े गए दोनो चार पहिया वाहन की तलाशी ली गई, जहां दोनो वाहनों में तलाशी के दौरान किसी भी तरह की संदिग्ध वस्तु नहीं मिली, जिसके बाद चालकों से वाहन से संबंधित दस्तावेजों की मांग की गई, लेकिन दोनो वाहन चालकों ने वाहन से संबंधित दस्तावेज व वाहन मालिक का नाम नहीं बताया। वहीं पुलिस ने वाहन क्रमांक एमपी 54 टी 0257 के चालक चैन सिंह से 27 हजार रूपए नगद एवं उसके साथी विकास जायसवाल से 21 हजार रुपए नगद एवं 1 मोबाइल तथा वाहन क्रमांक एमपी 65 टी 3170 के चालक संजय कोल से 6 हजार रुपए नगद एवं 1 मोबाइल एवं उसके साथी केशव प्रसाद राठौर से 4 हजार रुपए नगद एवं 1 मोबाइल तथा दोनो वाहनों को जप्त किया।
पूछताछ में पुलिस को करते रहे भ्रमित
पूरे मामले में जहां चारो आरोपियों से की गई पूछताछ में आरोपियों द्वारा लगातार पुलिस को भ्रमित करते रहे, जहां आरोपियों ने कहीं घूमने की बात तो कहीं बुकिंग ले जाने की बात की गई। वहीं वाहन से संबंधित मालिकाना हक के दस्तावेज नहीं दिखाए जाने तथा वाहन मालिक का नाम स्पष्ट नहीं करने पर पुलिस ने चोरी के वाहन के संदेह पर धारा 41(1, 4)/379 के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया। वहीं जप्त हुए रुपए के संबंध में भी आरोपियों द्वारा सटीक जानकारी नहीं दी गई। जिस पर पुलिस ने रुपए पर भी संदेह करते हुए जप्त किया।


No comments

Post a Comment

'
Don't Miss
© all rights reserved
made with NEWSANUPPUR