Responsive Ad Slot

ताजा खबर

latest

पास्को एक्ट के तहत दर्ज मामले की सुनवाई अब तहसील न्यायालयो में भी

पास्को एक्ट के तहत दर्ज मामले की सुनवाई अब तहसील न्यायालयो में भी

सोमवार, 10 अगस्त 2020

/ by News Anuppur

बच्चों के विरुद्ध किए गए यौन अपराधों के सुनवाई हेतु उच्च न्यायालय जबलपुर ने की नई व्यवस्था 
अनूपपुर। विशेष लोक अभियोजक पास्को हेमंत अग्रवाल के हवाले अभियोजन मीडिया प्रभारी राकेश कुमार पांडेय ने बताया कि उच्च न्यायालय जबलपुर के नवीन आदेश के अनुसार बालको के विरूद्ध किए गए लैंगिक अपराधो की सुनवाई अब जिला न्यायालय के अतिरिक्त, तहसील न्यायालयो मे भी होगी। इसके पूर्व के जारी आदेश के अनुसार पूरे जिले के थानों में पाॅस्को एक्ट के तहत दर्ज मामलों की सुनवाई केवल जिला न्यायालय में होती थी, जिसके लिए जिले के एक अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश के न्यायालय को विशेष न्यायलय घोषित किया गया था। जिला अनुपपुर में अपर सत्र न्यायाधीश भूपेंद्र नकवाल के न्यायालय को इस हेतु विशेष न्यायालय घोषित किया गया था। नवीन आदेश के अनुसार अब पास्को के मामले जिला न्यायालय के लिए घोषित विशेष न्यायालय के अलावा तहसील न्यायालयो में अतिरिक्त सत्र न्यायधीश के न्यायालय में भी चलेंगे, इस हेतु अनुपपुर जिला न्यायालय से केसों का स्थांनांतरण कोतमा में अपर सत्र न्यायाधीश रवीन्द्र शर्मा के न्यायालय और राजेन्द्रग्राम में अपर सत्र न्यायधीश अविनाश शर्मा के न्यायालय में कर दी गई है। उलेखनीय है कि जिला अनूपपुर की विशेष न्यायालय में पॉक्सो के प्रकरण में शासन की ओर से पैरवी हेतु हेमंत अग्रवाल को विशेष लोक अभियोजक घोषित किया गया है और तहसील कोतमा ओर राजेन्द्रग्राम के न्यायालयो हेतु जिला दंडाधकारी अनुपपुर द्वारा क्रमशः एडीपीओ राजगौरव तिवारी एवं सुश्री शशि धुर्वे को अधिकृत किया गया है। पास्को जिला समन्वयक और विशेष लोक अभियोजक हेमंत अग्रवाल ने बताया कि इस नई व्यवस्था से ना केवल फरियादी व पक्षकारो को सुविधा होगी, बल्कि नई व्यवस्था अधिवक्ताओ के लिए भी सुविधा जनक है। इससे पक्षकारो को ओर जल्दी शीघ्र न्याय प्राप्त होगा तथा प्रकरणों की शीघ्र सुनवाई में सहायक होगा।

'
Don't Miss
© all rights reserved
made with NEWSANUPPUR