Responsive Ad Slot

ताजा खबर

latest

सब्जी मंडियां होगीं स्थानांतरित, जनप्रतिनिधि लोगों को संक्रमण से बचाव हेतु करे प्रेरित - खाद्य मंत्री बिसाहूलाल

सब्जी मंडियां होगीं स्थानांतरित, जनप्रतिनिधि लोगों को संक्रमण से बचाव हेतु करे प्रेरित - खाद्य मंत्री बिसाहूलाल

बुधवार, 14 अप्रैल 2021

/ by News Anuppur


अनूपपुर, बिजुरी, कोतमा, अमलाई, जैतहरी स्टेशन पर यात्रियों की होगी थर्मल स्क्रीनिंग 

अनूपपुर। कलेक्ट्रेट सभागार में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के संबंध में हुई अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों की बैठक में खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति तथा उपभोक्ता संरक्षण मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने कहा कि जनप्रतिनिधियों से आग्रह किया है कि यह सबसे अहम जिम्मेदारी जनप्रतिनिधियों की है कि वे कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए आम लोगों को मास्क लगाए रखने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, कोरोना के टीके लगवाने तथा भीड़ ना लगाने के लिए समझाएं और प्रेरित करें। आम लोग जनप्रतिनिधियों की बात को ना सिर्फ ध्यान से सुनते हैं, बल्कि मानते भी हैं। इसलिए वे लोगों को जागरूक करने में अपने उत्तरदायित्वों का गंभीरता से निर्वहन करें। बैठक में कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर, पुलिस अधीक्षक मांगीलाल सोलंकी, अपर कलेक्टर सरोधन सिंह, बृजेश गौतम, विंध्य विकास प्राधिकरण के पूर्व उपाध्यक्ष रामदास पुरी सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं अधिकारीगण उपस्थित रहे।

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति तथा उपभोक्ता संरक्षण मंत्री ने कहा कि सब्जी मंडियों में लोगों की ज्यादा भीड़ देखने में आती है और इससे कोरोना संक्रमण फैलने की संभावना बनी है। इसकी रोकथाम हेतु ऐहतियातन अनूपपुर की थोक सब्जी मंडी को नया बस स्टैंड स्थानांतरित करने, सड़क किनारे बैठकर सब्जी बेचने पर प्रतिबंध लगाने साथ ही कोतमा की सब्जी मंडी को भी अन्यत्र स्थानांतरित करने की हिदायत दी। श्री सिंह ने कहा कि फुटकर रूप से फेरी लगाकर ठेले पर सब्जी बेचने की व्यवस्था की जाए। आम लोगों के बीच मास्कों का प्रचलन बढ़ाने पर जोर दिया और कलेक्टर को निर्देष दिए कि मुख्य नगरपालिका अधिकारियों एवं राजस्व अधिकारियों को इस कार्य में लगाएं कि वे मास्क ना लगाने वालों के चालान काटें तथा टीकाकरण के लिए लोगों को प्रेरित करें। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति तथा उपभोक्ता संरक्षण मंत्री ने छत्तीसगढ़ से टेªन से अनूपपुर जिले के स्टेषनों पर उतरने वाले यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग के लिए अनूपपुर, कोतमा, बिजुरी, जैतहरी, अमलाई रेलवे स्टेषन पर थर्मल स्क्रीनिंग टीम तैनात करने के निर्देश दिए। 

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति तथा उपभोक्ता संरक्षण मंत्री ने छत्तीसगढ़ की सीमा से लगे गांवों में बाहर से आने वाले लोगों की एक रजिस्टर में एन्ट्री कराने हेतु कर्मचारियों की ड्यूटी लगाने के निर्देष दिए। कोरोना मरीजों की प्रषासन एवं पुलिस द्वारा भरपूर मदद की जाए। मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को निर्देश दिए कि लोगों में कोरोना की गाइडलाइन के प्रति जागरूकता लाने के लिए वे अपने कार्य क्षेत्र के मुख्य स्थानों पर कम-से-कम दस होर्डिंग लगवाएं। रेमडेसिविर इंजेक्षन एवं ऑक्सीजन की उपलब्धता के बारे में पूछताछ की। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए कि वे रोजाना खंड चिकित्सा अधिकारियों से लैब टेक्निशियनों के कार्य की रिपोर्ट मंगाए। इससे पता चलेगा कि उन्होंने कितने सेम्पल का टेस्ट किया है। इस मौके पर वाॅलेंटियर्स को पहचान पत्र भी बांटे। 

कलेक्टर ने जनप्रतिनिधियों से आग्रह किया कि वे अपने क्षेत्र में लोगों को संदेष दें कि वे मास्क पहनकर ही घर से निकलें और सोषल डिस्टेंसिंग का पालन करें तथा किसी को सर्दी-जुकाम या खांसी हो तो वे फीवर क्लीनिक में जांच जरूर करायें। कलेक्टर ने शहरी क्षेत्रों में घर-घर जाकर थर्मल स्क्रीनिंग कराने तथा बुखार दिखने पर जांच कराने की व्यवस्था हेतु टीमें तैनात करने के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देष दिए। मोहल्लों में जाकर सेम्पल लेने के लिए लैब टेक्निशियनों की मोबाइल यूनिट तैनात करने के निर्देश भी दिए। 

कलेक्टर ने अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने टेक्निषियनों का मोबाइल नंबर अपने पास रखें और उन्हें प्रषिक्षण दिलाकर उन्हें सेम्पल लेने हेतु मोबाइल यूनिट में तैनात करें। कलेक्टर ने मास्क ना लगाने वालों पर पुलिस द्वारा चालानी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। आपने शासकीय उचित मूल्य दुकानों पर बगैर मास्क के जाने वाले उपभोक्ताओं को राशन न दिए जाने की व्यवस्था किए जाने की हिदायत भी दी। कलेक्टर ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम हेतु जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहे प्रयासों की खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति तथा उपभोक्ता संरक्षण मंत्री को जानकारी दी। बृजेश गौतम ने कहा कि जिले में जितने निचले स्तर तक जाकर टेस्टिंग कराई जाएगी, उतने ही कोरोना मरीज निकलकर सामने आएंगे और तभी हम इस प्राकृतिक आपदा से लड़ सकेंगे। आपने कहा कि यह दुकानदारों और व्यापारियों का उत्तरदायित्व है कि वे ग्राहकों को मास्क लगाने को कहें। आपने कहा कि यह जनप्रतिनिधियों का दायित्व है कि वे लोगों को मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, पात्र व्यक्तियों को टीके लगवाने तथा अनावश्यक रूप से घर से बाहर ना निकलने के लिए लोगों को प्रेरित करें।


कोई टिप्पणी नहीं

एक टिप्पणी भेजें

'
Don't Miss
© all rights reserved
made with NEWSANUPPUR