Responsive Ad Slot

ताजा खबर

latest

Anuppur: स्वास्थ्य विभाग फर्जी भर्ती की प्रक्रिया में एक और नया कारनामा

Anuppur: स्वास्थ्य विभाग फर्जी भर्ती की प्रक्रिया में एक और नया कारनामा

Thursday, May 13, 2021

/ by News Anuppur

चहेतो को उपकृत करने बदली चयन प्रक्रिया, मामला जिला कोल्ड चैन टेक्नीशियन की संविदा नियुक्ति का

अनूपपुर। स्वास्थ्य विभाग का एक और फर्जी भर्ती घोटाला सामने आया है, जहां पूर्व में मलेरिया विभाग में 16 पदो पर की गई फर्जी भर्ती के बाद कलेक्टर ने पूरी नियुक्ति पर रोक लगा दी थी, लेकिन मामले में एफआईआर न होने के कारण एक बार फिर स्वास्थ्य विभाग के हौसले बुलंद है और दोबारा फर्जी भर्ती को अंजाम दिया जा रहा है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अनूपपुर अंतर्गत टीकाकरण कार्यक्रम में संविदा जिला कोल्ड चैन टैक्नीशिन (रेफ्रीजरेटर मैकेनिक) के रिक्त पद की भर्ती राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन भोपाल के दिशा-निर्देशो के अनुरूप किया जाना था, जिसके लिए बकायदा विज्ञापन जारी कर आवेदन आमंत्रित किए गए और भर्ती प्रक्रिया पूर्ण की गई। प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद जहां नोट सीट कलेक्टर को पेश की जानी थी, जिसे छिपाते हुए विभाग ने पूरी चयन प्रक्रिया को बिना निरस्त किए वाॅकइन इंटरव्यू के माध्यम से आवेदन आमंत्रित किया गया है। अब कोविड़ 19 के लिए अस्थाई पद ऑपरेशन थियेटर टेक्नीशियन व एनीस्थीसिया टेक्नीशियन के एक-एक पद के साथ दोबारा जिला कोल्ड टेक्नीशियन के संविदा पद को शामिल कर राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन मध्यप्रदेश के निर्देशो के अनुरूप न जाकर सिर्फ वाक इन इंटरव्यू के माध्यम से दोबारा भर्ती प्रक्रिया अपनाए जाने का विज्ञापन जारी कर दिया गया। जबकि पूर्व में अपनाई गई भर्ती प्रक्रिया को निरस्त करने का कोई आदेश जारी नही किया गया। वहीं पूर्व में चयन प्रक्रिया की फाइल सीएमचओं कार्यालय में धूल खा रही है, नए संशोधित आदेश की चयन प्रक्रिया पूर्व आदेश की भांति ही होने के बावजूद फर्जी भर्ती का खेल खेला जा रहा है। 

यह है मामला

माह नवम्बर 2020 को राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन मध्यप्रदेश के पत्र क्रमांक/एनएचएम/एच.आर./2020/14902 के माध्यम से वार्षिक कार्ययोजना वर्ष 2020-21 में टीकारण कार्यक्रम के अंतर्गत स्वीकृत जिला कोल्ड चेन टेक्निशियन के रिक्त पद को 31 मार्च 2021 तक संविदा आधार पर कोविड़ 19 की वेक्सिन सप्लाई को ध्यान में रखते हुए भरने की स्वीकृति प्रदान की गई। जिसमें समाचार पत्रों में विज्ञापन जारी करते हुए आवेदको से ऑफलाइन आवेदन की समय सीमा निर्धारित करने, प्राप्त आवेदनों की स्क्रीनिंग एवं परीक्षण करने हेतु समिति गठित करने, प्राप्त आवेदन से पात्र व अपात्र की सूचनी जारी करने, जिला स्वास्थ्य समिति कलेक्टर की अध्यक्षता में एक साक्षात्कार समिति गठित करने, अंतिम चयन सूची के प्रकाशन एवं नियुक्ति आदेश के पूर्व राज्य स्तर से मिशन संचालक एनएचएम से अनुमोदन प्राप्त करने के बाद ही अनुमोदन उपरांत साक्षात्कार में चयनित अभ्यर्थी एवं नियमानुसार प्रतीक्षा सूची तैयार की जाकर संविदा मैनुअल 2018 के प्रावधान अनुसार संविदा नियुक्ति आदेश जारी कर अनुबंध निष्पादित करने के संबंधित निर्देशो का पालन किया जाना था।

भर्ती प्रक्रिया में अब किया जा रहा भ्रष्टाचार

पूरे मामले में जहां कार्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा आदेश क्रमांक/टीकाकरण /2021/29 के माध्यम से विज्ञापन भी जारी किया गया, जिसके बाद पांच आवेदको ने उक्त जिला संविदा कोल्ड चैन टेक्नीशियन के एक पद की भर्ती के लिए 5 आवेदको ने आवेदन भी किया, जिनके लिए 5 सदस्यीय टीम ने आवेदको के अनिवार्य शैक्षणिक योग्यता एवं अनुभव के साथ साक्षात्कार कर पूरी चयन प्रक्रिया अपनाई जाकर स्कूटनी करते हुए अभ्यर्थी का चयन कर प्रतीक्षा सूची तैयार करते हुए दावा आपत्ति का प्रकाशन कर दिया गया, जिसके बाद नोटसीट कलेक्टर को पेश कर चयनित अभ्यर्थी को नियुक्ति आदेश दिया जाना था। लेकिन महिनो तक नोटसीट रोकते हुए कार्यालय में दबाकर रखी गई और बिना किसी पूर्व सूचना व पूर्व में की गई चयन प्रक्रिया को बिना निरस्त किए ही कार्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी अनूपपुर के आदेश क्रमांक/कोविड़-19/2021-22/859 के माध्यम से कोविड़ 19 के लिए अस्थाई रूप से दो पदो की भर्ती के साथ संविदा जिला कोल्ड चैन टैक्नीशिन की दोबारा भर्ती निकाल दी गई। 

निर्धारित योग्यता व अनुभव के बिना अब वाक इन इंटरव्यू से होगी भर्ती

पूरे मामले में फर्जी भर्ती किए जाने को लेकर जिला कार्यक्रम प्रबंधक डाॅ. शिवेन्द्र द्धिवेदी एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय के स्थापना शाखा के प्रभारी महेश कुमार दीक्षित ने भ्रष्टाचार करने खेल खेला गया। जिसमें इन्होने बड़ी सफाई के साथ कोविड़ -19 में दो पदो की अस्थाई भर्ती के आड़ में जिला कोल्ड चैन टैक्नीशिन की संविदा नियुक्ति की सूचना जारी किया गया है। जिसमें इस नियुक्ति पर राष्ट्रीय मिशन म.प्र. के द्वारा जारी दिशा-निर्देशो जिनमें अभ्यार्थियो से मांगे गए अनिवार्य शैक्षणिक योग्यता व अनुभव का लेख नही करते हुए केवल वाक इन इंटरव्यू के माध्यम से विज्ञापन जारी किया गया है। आखिर स्वास्थ्य विभाग द्वारा एक बार पूर्ण हो चुकी भर्ती प्रक्रिया को बिना निरस्त करने दोबारा उसी पद की भर्ती क्यो की जा रही है ये तो समझ से परे है। लेकिन इस भर्ती प्रक्रिया में भ्रष्टाचार के कारनामों की गंध दूर-दूर तक पहुंच चुकी है। वही मामले में संविदा जिला कोल्ड चैन टैक्नीशिन में नए आदेश के तहत दिए गए वॉक इन इंटरव्यू के विज्ञापन में 13 मार्च 2021 को लिया जाना है, लेकिन कब तक लिया जाना है इसका कोई उल्लेख नहीं है, जो स्वास्थ विभाग की बड़ी गलती है, जो इस प्रक्रिया पर सवाल खड़े कर रही है। 

इनका कहना है

मामला संज्ञान में आया है, पूरे मामले की जांच कर कार्यवाही की जाएगी।

चंद्रमोहन ठाकुर, कलेक्टर अनूपपुर 


No comments

Post a Comment

'
Don't Miss
© all rights reserved
made with NEWSANUPPUR