Responsive Ad Slot

ताजा खबर

latest

देश - विदेश

Desh - Videsh

BOLLYWHOOD

BOLLYWHOOD

JOB & EDUCTION

JOB & EDUCTION

Tech

TECHNOLOGY

CRIME

CRIME

मध्य-प्रदेश

छत्तीसगढ़

Videos

Videos

राजनीति

BOLLYWOOD

टेक्नोलॉजी

https://ift.tt/BhaEgwY Murray, Winner of Two PGA Tour Titles, Dies at 30

कोई टिप्पणी नहीं

By Emmett Lindner from NYT Sports https://ift.tt/1WSiduQ

https://ift.tt/w68yp70 Fan Was Hit by a 110-M.P.H. Foul Ball. Now She’s on a Trading Card.

कोई टिप्पणी नहीं

By Jesus Jiménez from NYT Sports https://ift.tt/jwHEQou

शराब पीकर ड्यूटी में स्टॉफ वा मरीजों से अभद्रता पर संविदा फार्मासिस्ट को नोटिस जारी

कोई टिप्पणी नहीं

अनूपपुर। विकासखंड अनूपपुर अंतर्गत संचालित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खांड़ा में पदस्थ  संविदा फार्मासिस्ट मनोज मरावी को संस्था में प्रतिदिन शराब पीकर ड्यूटी आने एवं मरीजों वा स्टॉफ के साथ अभद्रता किए जाने के मामले में प्रमुख खंड चिकित्सा अधिकारी अनूपपुर डॉ. धनीराम सिंह श्याम ने कारण बताओं नोटिस जारी करते हुए जवाब मांगा गया है। 

बीएमओं डॉ. धनीराम ने बताया कि 8 फरवरी को प्रमुख खंड चिकित्सा अधिकारी एवं टीम द्वारा निरीक्षण के दौरान संस्था में प्रतिदिन शराब पीकर आने तथा मरीजों वा स्टॉफ से बत्तमीजी वा गालीगलौज एवं अभद्र व्यवहार करने साथ ही इस दिन अस्पताल में मच्छरदानी का स्टॉक रखा जा रहा था, जिसे अन्यंत्र लोगो के घर में रखा जाना पाया गया। जिस पर बीएमओं उक्त कृत्य कर्मचारी अधिनियम 1955 के अनुरूप ना होकर कदाचराण की श्रेणी में आने एवं गंभीर लापरवाही की श्रेणी में आने कार्यवाही हेतु वरिष्ठ कार्यालय को प्रस्तावित किया गया था। जिस पर दो दिन के अंदर जवाब मांगते हुए कारण बताओं नोटिस जारी किया गया है।

Anuppur News : 7 माह से लापता हुआ नपा अनूपपुर का कर्मचारी

कोई टिप्पणी नहीं

हर माह निकल रहा वेतन, नपा के अधिकारी कर्मचारियों ने साधी चुप्पी

इंट्रो- नगर पालिका अनूपपुर में 13 वर्षो से कार्यरत एक कर्मचारी पिछले 7 माह से लापता है, जिसकी जानकारी नपा के स्थापना शाखा, लेखा शाखा, राजस्व शाखा, समग्र शाखा सहित लोक निर्माण शाखा के अधिकारी-कर्मचारियों द्वारा गुम हुए कर्मचारी से अंजान है। मजे की बात यह है कि गुम हुए कर्मचारी का प्रत्येक माह का वेतन भी लेखा शाखा से निकल रहा है। उक्त कर्मचारी के संबंध में पूछने पर गोलमोल जवाब दिया जा रहा है। जब मुख्य नपाधिकारी शिवांगी सिंह बघेल से जानकारी चाही गई तो वे कार्यालय में ही नही थी और ना ही उन्होने फोन उठाना उचित समझा। 

अनूपपुर। नगर पालिका अनूपपुर में पिछले कई वर्षो से कार्यरत दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी बृजेन्द्र राठौर की भर्ती वर्ष 2010 में स्वच्छता कार्यक्रम के तहत ट्रैक्टर चालक में भर्ती किया गया था, जिसके बाद अक्टूबर 2023 में उक्त कर्मचारी को संयुक्त संचालक नगरीय प्रशासन विभाग शहडोल में नियम विरूद्ध तरीके से अटैच कर दिया गया था। अटैच के कुछ महीने बाद ही उक्त कर्मचारी संयुक्त संचालक कार्यालय शहडोल से भी लापता है। उक्त कर्मचारी के लापता होने के बाद से नगर पालिका अनूपपुर के लेखा शाखा द्वारा प्रत्येक माह उसका उसके वेतन का भुगतान भी किया जा रहा है। लेकिन उक्त कर्मचारी के संबंध में किसी को भी ज्ञात नही है। एक तरफ जिस कर्मचारी को नपा में ट्रैक्टर चालक के रूप रखा गया था, जिसके लापता होने के बाद ट्रैक्टर चालक की कमी को देखते हुए बीते 7 दिन पूर्व नपा अनूपपुर द्वारा 400 रूपए प्रतिदिन की दर से प्रवीण गोड़ उर्फ छोटू को ट्रैक्टर चालक में रखा लिया गया है।
पूरे मामले में जब न्यूज़ अनूपपुर की टीम ने नगर पालिका अनूपपुर के स्थापना शाखा, लोक निर्माण शाखा, लेखा शाखा, सामग्र शाखा सहित राजस्व शाखा के अधिकारियों एवं कर्मचारियों से उनके कार्यालय में कार्यरत लापता कर्मचारी बृजेन्द्र राठौर के संबंध में जानकारी चाही गई, तो कई अधिकारी एवं कर्मचारियों द्वारा इस नाम के किसी भी कर्मचारी को नपा अनूपपुर में कभी नही देखे जाने की बात कही दी गई, तो कई कर्मचारियों ने सिर्फ बृजेन्द्र राठौर को नपा का कर्मचारी माना, लेकिन कभी देखा नही। पूरे मामले में सबसे बड़ी बात यह है कि लेखा शाखा में बृजेन्द्र राठौर को प्रत्येक माह वेतन का भुगतान हो रहा तथा स्थापना शाखा में सहायक राजस्व निरीक्षक रमेश नापित से जानकारी लेने पर उन्होने उक्त कर्मचारी के संबंध में किसी भी तरह कोई जानकारी देने से मना कर दिया गया तथा जानकारी लेने के लिए लिखित आवेदन की मांग की गई। रमेश नापित ने सिर्फ इतना बताया कि उक्त कर्मचारी दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी है, जिसको 13 वर्ष पूर्व ट्रैक्टर चालक में भर्ती किया गया था। सबसे बड़ा सवाल उक्त लापता कर्मचारी बृजेन्द्र राठौर की सुध लेने तथा उसके संबंध में नपा अधिकारियों एवं कर्मचारियों की चुप्पी साधने का कारण का पता नही चल सका है। अब सवाल उठता है कि नपा में कोई बृजेन्द्र राठौर नाम का कर्मचारी है भी या सिर्फ नगर पालिका कागजों में उसकी भर्ती कर उसके नाम से वेतन निकाला जा रहा है। लेकिन एक फोटो जिसे बृजेन्द्र राठौर का नाम दिया गया है उससे अवगत कराया गया है। 

इनका कहना है

जानकारी आपके द्वारा प्राप्त हुई है, पूरे मामले की अगर शिकायत प्राप्त होती है, तो जांच कर कार्यवाही की जाएगी। 

अमन वैष्णव, अपर कलेक्टर अनूपपुर

बाइक सवार चार लोगो ने चाकू की नोक में किसान से की लूट, एक गिरफ्तार

कोई टिप्पणी नहीं

 

टमाटर की फसल के 14 हजार सहित मोबाइल लूटे, मारपीट पर किसान गंभीर घायल

अनूपपुर। राजेन्द्रग्राम थाना क्षेत्र अंतर्गत उमनिया-करौंदी कच्चे सडक़ में 13 मई की शाम लगभग 6 बजे बाइक से अपने घर जा रहे किसान को चार बाइक सवारों द्वारा रास्ता रोककर उसके साथ चाकू से हमला करते हुए मारपीट कर उसका मोबाइल फोन एवं 14 हजार रूपए नगद जेब से निकालकर मौके से भाग गये। इस लूट में किसान के सिर वा शरीर के अन्य हिस्सों में गंभीर चोट आई थी, जिसे उपचार हेतु सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र राजेन्द्रग्राम भर्ती कराते हुए सूचना पुलिस को दी गई थी। पूरे मामले की गंभीरता को देखते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र सिंह पवॉर एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मो. इसरार मन्सूरी के निर्देशन में जिसकी सूचना पर पुलिस ने चार लोगो पर धारा 341, 394, 397, 398 के तहत मामला दर्ज करते हुए आरोपी मनीष कुमार चंद्रवंशी उम्र 20 वर्ष को गिरफ्तार कर तीन अन्य आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है। 

यह है मामला

मामले की जानकारी के अनुसार 13 मई को अस्पताल से सूचना मिली की सुमंत कुमार चन्द्रवंशी पिता राजेन्द्र प्रसाद चन्द्रवंशी उम्र 27 वर्ष निवासी करौंदी को घायल अवस्था में उपचार हेतु अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जिसके सिर एवं शरीर के अन्य हिस्सों में गंभीर चोट है। जहां सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने सुमंत कुमार चंन्द्रवंशी से पूछताछ की गई, जहां उसने बताया कि 13 मई की सुबह 10 बजे बिलासपुर के एक व्यापारी टमाटर खरीदने मेरे गांव आया हुआ था, जहां मै और मेरी मॉ तथा बुआ का लडक़ा विनोद निवासी उमनिया के साथ जोहिला नदी के किनारे स्थित खेत से टमाटर तोडक़र व्यापारी को 40 कैरेट टामाचार बेचा गया था, जिसकी राशि 14 हजार रूपए व्यापारी ने दी थी, जिसे मैने अपने पास रखा था विनोद को छोडऩे उसके घर ग्राम उमनिया छोडऩे बाइक में चला गया था। 

4 बाइक सवारों बाइक अड़ाकर रोका रास्ता

सुमंत कुमार चंन्द्रवंशी ने बताया कि मै अपने भाई विनोद को उसके घर छोडक़र उमनिया से अपने घर करौंदी जा रहा था, जहां उमनिया-करौंदी के कच्चे रास्ते में रामसुजान चंद्रवंशी के खेत के पास चार बाइक सवार जिन्होने तेज रफ्तार से बाइक चलाते हुए मेरे बाइक के सामने अड़ाकर लगाते हुए मेरा रास्ता रोक लिया था तथा उनमें से एक व्यक्ति ने उतकर चाकू दिखाते हुए जो भी रखे हो उसे मांगते हुए मारपीट करने लगे। 

चाकू से हमला कर 14 हजार सहित मोबाइल लूटे

पीडि़त ने बताया कि बाइक सवार चारो लोगो ने मुझसे मारपीट करने लगे तथा एक व्यक्ति ने चाकू से मुझपर हमला कर दिया, जहां बचाव में चाकू मेरे कान में लगा। मारपीट के बीच उन्होने मुझे जमीन मे गिरा दिया और चारों लोगो द्वारा मेरी तलाशी लेते हुए शर्ट में रखे मोबाइल एवं पेंट की जेब में रखे 14 हजार नगद राशि लूट ली गई। 

खेत में काम करने वालो लोगो ने बचाई जान

चारों बाइक सवारों द्वारा मारपीट करने के साथ रूपए लुट लिए जाने पर हल्ला मचाने पर आसपास के खेतों में काम कर रहे लोगो दौडक़र आने पर चारों लोगो ने वहां से अपनी बाइक लेकर भागने लगे। लेकिन रास्ता पथरीला वा कच्चा होने के कारण चारो बाइक से गिर गए और अपनी बाइक को रास्ते में ही छोडक़र खेत होते हुए जोहिला नदी होते हुए भाग निकले।

मौके पर पहुंचे एसपी, पीडि़त से की मुलाकात

मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र सिंह पवॉर ने मौके पर पहुंचकर घटना स्थल का निरीक्षण करते हुए पीडि़त से मुलाकात कर घटना की जानकारी लेते हुए थाना प्रभारी राजेन्द्रग्राम को निर्देशित करते हुए आरोपियों को जल्द से जल्द पकडऩे हेतु टीम का गठन किया गया। 

चारों आरोपियों की हुई पहचान, एक गिरफ्तार

पुलिस अधीक्षक एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के निर्देशन तथा लूट के समय पीडि़त द्वारा चार बाइक सवारों में से एक की पहचान मनीष कुमार चंद्रवंशी पिता स्व. लवलेश कुमार उम्र 20 वर्ष के रूप में किए जाने पर पुलिस टीम ने उक्त आरोपी मनीष कुमार चंद्रवंशी को गिरफ्तार किया गया, जहां उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। पूछताछ के दौरान उसने अपने तीनों अन्य साथियों की पहचान कराई गई, जिसके बाद चारों आरोपियो के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए गिरफ्तार आरोपी मनीष कुमार को न्यायालय में पेश किया गया, वहीं तीन अन्य आरोपियों को गिरफ्तार करने उनकी पतासाजी में जुटी हुई है। आरोपी को पकडऩे में राजेन्द्रग्राम थाना प्रभारी वीरेन्द्र कुमार बरकरे, उपनिरीक्षक प्रवीण साहू, सहायक उपनिरीक्षक दीपचंद्र वर्मन, यादवेन्द्र सिंह, प्रधान आरक्षक राजेन्द्र प्रसाद यादव, शिवकुमारी धुर्वे, आरक्षक मदगेन्द्र पटेल, मूरत सिंह, अजय परस्ते, रविशंकर मरावी सहित थाना प्रभारी अमरकंटक कलीराम परस्ते की भूमिका सहरानीय रही।

इनका कहना है

मामले की गंभीरता को देखते हुए टीम गठित किया गया था, जहां एक आरोपी की गिरफ्तारी की जा चुकी है, तीन अन्य आरोपियों की पतासाजी की जा रही है।

जितेन्द्र सिंह पवॉर, पुलिस अधीक्षक अनूपपुर

नियम विरूद्ध तरीके से संचालित आधा सैकड़ा से अधिक निजी स्कूल को नोटिस जारी

कोई टिप्पणी नहीं

4 निजी विद्यालयों की मान्यता समाप्त करने भेजा गया प्रस्ताव, 53 स्कूलों पर गिर सकती है गाज

अनूपपुर। जिले में संचालित प्राइवेट स्कूलों की मनमानी को रोकने के लिए कलेक्टर आशीष वशिष्ठ के निर्देशन में जिला शिक्षा अधिकारी रमेश सिंह धुर्वे द्वारा किए गए निरीक्षण के दौरान शासन के निर्देशानुसार तथा मान्यता मापदंड के अनुसार स्कूल का संचालन नही किए जाने पर लगभग आधा सैकड़ा से अधिक स्कूलों को कारण बताओं नोटिस जारी करते हुए जवाब मांगा गया, जहां जवाब संतोषजनक नही पाए जाने पर मान्यता समाप्त करने हेतु कार्यवाही प्रस्तावित करने आदेश जारी किया गया है, इसके साथ 4 निजी विद्यालयों के खिलाफ कार्यवाही करने हेतु मान्यता समाप्त करने हेतु प्रस्ताव भेजा गया है। लेकिन जिले के निजी विद्यालयों के संचालक द्वारा नोटिस को गंभीरता से नही लेते हुए समय सीमा में जवाब प्रस्तुत नही किया जा रहा है।
वहीं जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि जिले में कुल 202 निजी विद्यालय संचालित है। जिनमें निरीक्षण के दौरान पाया गया कि अगर 10 प्रतिशत फीस वृद्धि की गई है या नही की जानकारी प्रतिवर्ष कार्यालय को उपलब्ध नही कराए जाने, फीस वृद्धि की जानकारी निर्धारित प्रारूप एवं समिति द्वारा अनुमोदित सूची कार्यालय को उपलब्ध नही कराए जाने, विद्यालय के सूचना पटल पर नोटिस चस्पा नही किए जाने, पाठ्य पुस्तकें, यूनिफार्म, टाई, जूते, कॉपी, शैक्षणिक सामग्री आदि संस्था में विक्रय नही किया जाता और न ही अभिभावकों वा छात्रों को पुस्तक क्रय किए जाने दवाब बनाया जाता है का प्रमाण पत्र प्रस्तुत नही करने, संस्था मान्यता मापदंड के अनुरूप संचालित नही पाए जाने और संस्था में साफ-सफाई का अभाव तथा पेयजल, शौचालय, फर्नीचर छात्रों के मान से उपलब्ध नही होने तथा जिन संस्थाओं में वाहन उपलब्ध है वह शासन के निर्देशानुसार तथा परिवहन विभाग द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन नही करने पर स्पष्टीकरण प्रमाणित दस्तावेजों के साथ प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए थे। लेकिन लगभग आधा सैकड़ा से अधिक निजी विद्यालयों द्वारा अब तक कोई जवाब प्रस्तुत नही किया गया है।

4 स्कूलों की मान्यता समाप्त करने भेजा गया प्रस्ताव

निरीक्षण के दौरान अशासकीय विद्यालयों जिनमें सनबीम कान्वेंट स्कूल अनूपपुर, सनाइज स्कूल बिजुरी, भारत ज्योति अनूपपुर एवं न्यू स्टेला लहरपुर जैतहरी स्कूलों में कई कमियां जिनमें स्कूलों द्वारा फीस वृद्धि की जानकारी कार्यालय को नही भेजने, पुस्तकों की सूची सभी दुकानदारों को उपलब्ध नही कराए जाने एवं मापदंड के अनुसार संस्था संचालित नही किए जाने पर कारण बताओं नोटिस जारी किया गया था, जहां संतोष पूर्ण जवाब नही दिए जाने पर जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा उक्त चारों निजी विद्यालय की मान्यता समाप्त कर आवश्यक कार्यवाही करने हेतु प्रस्ताव लोक शिक्षण शहडोल के संयुक्त संचालक को भेजा गया है।

10 विद्यालयों में तीन ने दिया जवाब

जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा विवेकानंद पब्लिक स्कूल संजयनगर, पाइन माउन्ट संजयनगर, राघव हायर सेकेण्ड्री  संयजनगर, नवचेतना हाई स्कूल राजेन्द्रग्राम, आदर्श सर्वोदय हाई स्कूल जमुना कॉलरी, डीव्हीएम स्कूल अनूपपुर, रामकृष्ण विवेकानंद विद्यापीठ बिजुरी, संत जोसेफ मिशन स्कूल बिजुरी, संत जोसेफ सकूल कोतमा एवं कल्याणिका केन्द्रीय विद्यालय अमरकंटक को 1 मइ्रध् करे कारण बताओं सूचना जारी करते हुए 5 बिन्दुओं पर तीन दिवस के अंदर जवाब मांगा गया था, जिस पर तीन निजी स्कूलों विवेकानंद रूरल पब्लिक स्कूल संजय नगर, संत जोसेफ स्कूल बिजुरी एवं कोतमा ने जवाब प्रस्तुुत किया गया है। 

45 निजी स्कूलों पर गिर सकती है गाज

निरीक्षण के बाद जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय द्वारा 9 मई को 45 निजी विद्यालयों को जारी किए गए कारण बताओं नोटिस के जवाब पर अब तक ना तो कोई स्पष्टीकरण जारी किया गया और ना ही गंभीरता दिखाई जा रही है। जिसके कारण जिले के 45 निजी स्कूलों जिनमें एकता हा.से. स्कूल कोतमा, शिशु भारती हाई स्कूल कोतमा, गुलाब आई स्कूल बिजुरी, शशि शिक्षा मंदिर न्यू राजनगर, लिटिल ऐंजिल राजनगर, विवेकानंद कान्वेंट हा.से. स्कूल राजनगर, नेहरू बाल निकेतन हाई स्कूल अनूपपुर, पैरामाउन्ट हा.से. जैतहरी, मॉ शारदा ग्रामोदय लोहसरा, सरस्वती उमा. विद्यालय कोतमा, सरस्वती उमा. विद्यालय बिजुरी, सरस्वती उमा. विद्यालय अनूपपुर, सरस्वती उमा. विद्यालय जैतहरी, निखिल ज्योति पब्लिक स्कूल निगवानी, ग्रीन लैण्ड पब्लिक स्कूल कोतमा, पारस हाई स्कूल लहसुई, रिपब्लिक कान्वेंट कोतमा, इंदिरा स्मृति हाईस्कूल लतार, मेगामाइंड प्ले स्कूल अनूपपुर, मदरलैण्ड पब्लिक स्कूल रेउंदा, सरस्वती शिशु मंदिर बदरा, कमल पब्लिक स्कूल पकरिहा, केडीपी मेमोरियल रामनगर, त्रिशा इंग्लिश मीडियम स्कूल भाद, रोहित पूर्व मा.वि. आमाडांड, सनबीम पब्लिक स्कूल आमाडांड, प्रगति विद्या निकेतन पब्लिक जमुना, विवेकानंद शिशु शिक्षा मंदिर छिल्पा, स्मार्ट पब्लिक इंग्लिश मीडियम स्कूल पोंड़ीचोंड़ी, डायनेमिक पब्लिक स्कूल जमुना कॉलरी, सरस्वती ज्ञान मंदिर खोडऱी नंबर 1, गौरव मिशन स्कूल जर्राटोला, सरस्वती ज्ञान मंदिर भालूमाड़ा, सोनम शिशु शिक्षा मंदिर बम्हनी, कमल शिक्षा निकेतन अमलाई, ज्ञानोदय मिडिल स्कूल कमलनगर, एम.के. चिल्ड्रन एकेडमिक स्कूल वेंकटनगर, रिनाइसेस गणेश पब्लिक स्कूल छिल्पा, आरडीव्ही लेवल लर्निंग इंग्लिश मीडियम स्कूल फुनगा, वाई.एल. मेमोरियल स्कूल अनूपपुर, हैवेनली इंग्लिश मीडियम स्कूल चचाई, सुलोचना शिक्षा समिति जैतहरी, लिटिल फ्लावर स्कूल अनूपपुर, ज्ञानोदय इंग्लिश मीडियम स्कूल अनूपपुर सहित सरस्वती ज्ञान मंदिर अनूपपुर पर मनमानी पूर्व स्कूल संचालन करते पाए जाने पर मान्यता समाप्त करने के कार्यवाही की गाज गिर सकती है।

इनका कहना है

निरीक्षण के बाद कमिया मिलने पर आधा सैकड़ा से अधिक निजी विद्यालयों के संचालकों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है, इसके साथ 4 निजी विद्यालयों के मान्यता समाप्त करने के लिए संभागीय कार्यालय को कार्यवाही प्रतिवेदन भेजा गया है। 

रमेश सिंह धुर्वे, जिला शिक्षा अधिकारी अनूपपुर


© all rights reserved
made with NEWSANUPPUR