Responsive Ad Slot

ताजा खबर

latest

कर्फ्यू में रोजी-रोटी बंद गरीबो परिवारों को खाद्य मंत्री के गृह जिले में नही मिल पा रहा राशन

Anuppur: कर्फ्यू में रोजी-रोटी बंद गरीबो परिवारों को खाद्य मंत्री के गृह जिले में नही मिल पा रहा राशन

Friday, May 28, 2021

/ by News Anuppur


परिवहनकर्ता द्वार प्रदाय छोड शहडोल रैक से ढो रहे गेहॅू, प्रदाय योजना प्रभावित

शहडोल रैक प्वाइंट से सीधे पीडीएस दुकानो में खाद्यान्न पहुंचाने का चल रहा खेल

अनूपपुर। कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए शिवराज सरकार ने पूरे प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू लगा दिया। इन सब के बीच उत्पन्न हुई महामारी की स्थिति ने गरीबों से उनकी रोजी-रोटी छीन ली। इस स्थिति को देखते हुए शासन ने (तीन माह) अप्रैल से जून का एक साथ खद्यान्न निः शुल्क देने के आदेश दिए थे। लेकिन खाद्य मंत्री बिसाहूलाल सिंह के गृह जिला अनूपपुर के 1 लाख 40 हजार 952 पात्र गरीब परिवार इस योजना से अछूते है। जिसका कारण जिले के शासकीय उचित मूल्य की दुकानो में परिवहनकर्ता द्वारा समय पर खाद्यान्न पहुंचाने में असथर्म दिखे, जिसको लेकर म.प्र. स्टेट सिविल सप्लाईज काॅर्पोरेशन अनूपपुर के जिला प्रबंधक द्वारा जैतहरी एवं राजेन्द्रग्राम द्वार प्रदाय के परिवहनकर्ता फौजी ट्रांसपोर्ट एवं अनूपपुर व कोतमा के परिवहनकर्ता श्री राधे कारगो को समयावधि में खाद्यान्न का परिवहन न करने के कई नोटिस जारी किए गए। इसके बावजूद जिले की खाद्यान्न वितरण की स्थिति जस की तस बनी हुई हैै।

रैक प्वाइंट से सीधे पीडीएस दुकानो में  पहुंचा रहा गेहॅू

शहडोल रैक प्वाइंट से सीधे जिले के उचित मूल्य की दुकानो में गेहूॅ भेजने का खेल परिवहन कर्ता द्वारा खेला जा रहा है। जहां शहडोल रैंक प्वाइंट से ट्रक क्रमांक सीजी 16 ए 1659 में 296.70 क्विंटल बोरी 600 27 मई को अनूपपुर गोदाम पहुंचा, जहां फौजी ट्रांसपोर्टर द्वारा उक्त ट्रक से 108 बोरी गेहूं अनूपपुर गोदाम में उतारते हुए बाकी 492 बोरी वजन 243.92 क्विंटल गेहूं को उचित मूल्य की दुकान किरर भेजा दिया गया। जहां 28 मई को किरर दुकान पहुंचे उक्त गेहूं अमानक पाते हुए निगरानी समिति एवं सेल्समैन द्वारा दुकान में गेहूं उतारवाने से मना कर दिया गया, जिसके बाद उक्त ट्रक को वापस कर दिया गया है। वहीं केन्द्र प्रभारी अनूपपुर सुनील गर्ग बीते दो माह से गायब है। जिसके कारण द्वार प्रदाय योजना में जाने वाले खाद्यान्न की गुणवत्ता बिना जांचे हुए परिवहनकर्ता द्वारा अपनी मनमानी करते हुए सीधे रैक प्वाइंट से गेहूं जिले के चारो विकासखंड स्थित उचित मूल्य की दुकानो में भेजा कर लोडिंग अनलोडिंग के नाम पर निगम को हानि पहुंचाई जा रही है।

नोटिस काट विभाग ने दिया अंतिम अवसर भी फेल

म.प्र. स्टेट सिविल सप्लाईज कार्पोरेशन जिला अनूपपुर के जिला प्रबंधक ने द्वार प्रदाय जैतहरी एवं राजेन्द्रग्राम के परिवहनकर्ता फौजी ट्रांसपोर्ट एवं अनूपपुर व कोतमा के परिवहनकर्ता को पत्र क्रमांक/द्ववार प्रदाय/2021-22/716 दिनांक 24 मई 2021 के माध्यम से द्वारा प्रदाय योजना अंतर्गत माह अप्रैल, मई, जून एवं जुलाई 2021 का खाद्यान्न आवंटन समयावधि में परिवहन न करने का अंतिम अवसर प्रदय करने का नोटिस जारी किया गया है। नोटिस में  24 मई को आयोजित बैठक में खाद्य मंत्री बिसाहूलाल एवं कलेक्टर सोनिया मीना द्वारा द्वार प्रदाय योजना के परिवहनकर्ताओं को पर खाद्यान्न का समयावधि में परिवहन न करने पर गंभीर आपत्ति जताई गई और परिवहनकर्ता को अंतिम अवसर देते हुए समय सीमा में उचित मूल्य की दुकान में खाद्यान्न का परिवहन सुनिश्चित करने अन्यथा निगम की कंडिका अनुसार पेनाल्टी अधिरोपित की जावेगी। 

द्वार प्रदाय की ट्रके शहडोल रैक से ढो रहे गेहूं 

मामले की जानकारी के अनुसार शहडोल में गेहूं की रैक लगी हुई है, जिसे फौजी ट्रांसपोर्ट के परिवहन कर्ता द्वारा द्वार प्रदाय योजना को छोड़ रैक के गेहूं का परिवहन करने में लगी हुई है। जिसके कारण अनूपपुर जिले की द्वार प्रदाय योजना का कार्य पूरी तरह से प्रभावित है। खाद्य मंत्री व जिले के प्रभारी मंत्री का गृह जिला होने के बाद भी गरीब परिवार उचित मूल्य की दुकान से बिना खाद्यान्न लिए वापस हो रहे है। जिसमे अब तक पुष्पराजगढ़ की 80 दुकाने, जैतहरी की 20 दुकाने, अनूपपुर एवं कोतमा की 40 दुकानो में द्वार प्रदाय का खाद्यान्न नही पहुंच सका है, जबकि संबंधित विभागो द्वारा परिवहनकर्ता फौजी ट्रांसपोर्ट को लगातार दूरभाषा के माध्यम से द्वार प्रदाय योजना का का कार्य प्रभावित होने की सूचना एवं कई नोटिस जारी की जा चुकी है। बावजूद इसके फौजी ट्रांसपोर्ट के परिवहन कर्ता द्वार प्रदाय के कार्य को प्रभावित करते हुए शहडोल रैक प्वाइंट से गेहूं का परिवहन करने में लगे हुए है।

दो माह से गायब है केन्द्र प्रभारी अनूपपुर

म.प्र. स्टेट सिविल सप्लाईज कार्पोरेशन अनूपपुर के केन्द्र सुनील गर्ग कोरोना संकटकाल में बीते दो माह से गायब है। जिन्हे जिला प्रबंधक नाॅन द्वारा उन्हे अभयदान दिया गया है, जो इस संकट के समय अपने अपने कर्तव्यों को छोड़कर सीधी में ट्रांसपोर्टिंग करने में लगे हुए है। जानकारी के अनुसार इन्होने अपने परिवार के सदस्यो के नाम से 8 से 10 ट्रक खरीदे हुए है। जो ज्यादातर सीधी में रहकर ट्रांसपोर्टिंग का काम देखते है। जबकि इनका स्थानंातरण शहडोल से होशंगाबाद के लिए हुआ है, लेकिन अपनी ट्रांसपोर्टिंग का कार्य प्रभावित न हो इसके लिए इन्होने उच्चाधिकारियों से सांठ-गांठ कर अनूपपुर जिले में अपना संलग्नीकरण करा लिया है। और बीते 2 माह से सीधी में रहकर अपना ट्रांसपोर्टिंग का काम देख रहे है। 

इनका कहना है

अगर शहडोल रैक प्वाइंट से सीधे गेहूं पीडीएस दुकान जा रहा है तो गलत है। पूरे मामले की जांच कर कार्यवाही की जाएगी। 

अंबोज श्रीवास्तव, जिला खाद्य एवं आपूर्ति अधिकारी


इनका कहना है

द्वार प्रदाय योजना का कार्य प्रभावित है, इसके लिए परिवहनकर्ता को नोटिस भी जारी किया जा चुका है। वहंी अगर शहडोल रैक प्वाइंट से गेहॅू सीधे पीडीएस गोदाम जा रहा है तो गलत है, जांच कर कार्यवाही की जाएगी।

एस.डी. बिरहा, जिला प्रबंधक स्टेट सिविल सप्लाईज काॅपोर्रेशन अनूपपुर


इनका कहना है

अगर शहडोल रैक प्वाइंट से पीडीएस गोदाम सीधे गेहूं भेजा रहा है, तो जांच कर कार्यवाही की जाएगी।

प्रीति शर्मा, शाखा प्रबंधक एमपीडब्ल्यूएलसी अनूपपुर


No comments

Post a Comment

'
Don't Miss
© all rights reserved
made with NEWSANUPPUR