Responsive Ad Slot

ताजा खबर

latest

किसान के खाते से फर्जी तरीके से निकले २ लाख १० हजार, हुई शिकायत

मंगलवार, 22 मई 2018

/ by News Anuppur
मामला जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित कोतमा का, ६ बार में निकाली गई राशि
अनूपपुर। प्रदेश शासन द्वारा भले ही किसानो की फसल का उचित दाम दिलवाए जाने के लिए समर्थन मूल्य पर फसल खरीदी कर किसानो की आर्थिक स्थित को सुदृढ़ किए जाने का प्रयास में लगी है, वहीं ग्राम मौहरी बड़ी के अनपढ़ किसान द्वारा वर्ष २०१७-१८ में समर्थन मूल्य पर धान बेचने पर सहकारी केन्द्रीय बैंक कोतमा के खाते में आई राशि का षड्यंत्र पूर्वक निकाल लिए जाने की शिकायत कोतमा थाने में की गई, लेकिन कोई कार्यवाही नही होते देख किसान ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के पास पहुंचा लिखित शिकायत करते हुए खाते से निकाली गई राशि को वापस कराए जाने एवं दोषी पर जांच कर कार्यवाही किए जाने की मांग की गई।
यह है मामला
भालूमाड़ा थाना अंतर्गत ग्राम मौहरी बडी में निवास करने वाले शेर सिंह पिता भगवादीन गोंड़ उम्र ५० वर्ष ने २२ मई मंगलवार को पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंच अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक वैष्णव शर्मा से लिखित शिकायत करते हुए बताया कि सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाखा कोतमा में उसके खाता क्रमांक १८५०००९३३८०८ से षड्यंत्र पूर्वक अवैध तरीके से २ लाख १० हजार रूपए अलग-अलग दिनांको में ६ बार करके रूपए निकाल लिए जाने तथा बैंक प्रबंधक पर शंका जाहिर कर निष्पक्ष जांच कर धान की रकम को वापस दिलाए जाने की मांग की गई।
अलग-अलग दिनांक में ६ बार में निकाले रूपए
किसान शेर सिंह ने बताया कि जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाखा शहडोल में उसके खाता क्रमांक १८५०००९३३८०८ में धान के आए रूपए को फर्जी तरीके से निकाल लिए जाने की शिकायत की जिसमें १२ फरवरी २०१८ को ४९ हजार रूपए, २३ फरवरी को ४० हजार, ७ मार्च को २५ हजार, ९ मार्च को ४९ हजार, १४ मार्च को २५ हजार रूपए तथा २६ अप्रैल को २२ हजार रूपए कुल २ लाख १० हजार रूपए फर्जी तरीके से आहरण कर लिया गया है। जबकि उक्त राशि मेरे द्वारा इन दिनांको में नही की गई।
प्रबंधक पर जताई शंका
किसान शेर सिंह गोंड़ ने बताया कि उसके खाते से २ लाख १० हजार रूपए आहरित करने पर उसे जिला सहकारी बैंक मार्यादित शाखा कोतमा के प्रबंधक पर शंका जाहिर करते हुए आरोप लगाया है। जिस पर शाखा प्रबंधक द्वारा मेरी अज्ञानता व अनपढ़ होने का फायदा उठाते हुए राशि आहरित कर ली है। किसान ने शिकायत में बताया गया कि जब उक्त संबंध में शाखा प्रबंधक से बात की जाती है तो शाखा प्रबंधक द्वारा आनाकानी की जाती है तथा घर आकर बात करने की बात भी कही गई लेकिन एक माह से ऊपर हो जाने पर आज दिनांक तक शाखा प्रबंधक द्वारा कोई कार्यवाही नही की गई।
इनका कहना है
किसान की शिकायत पर जांच एसडीओपी कोतमा को दी गई है।
वैष्णव शर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनूपपुर

कोई टिप्पणी नहीं

एक टिप्पणी भेजें

'
Don't Miss
© all rights reserved
made with NEWSANUPPUR