Responsive Ad Slot

ताजा खबर

latest

लाॅकडाउन में घर जाने फंसी किशोरी के साथ रास्ते में सामूहिक दुष्कर्म

लाॅकडाउन में घर जाने फंसी किषोरी के साथ रास्ते में सामूहिक दुष्कर्म

Saturday, March 28, 2020

/ by News Anuppur
नई दिल्ली। लाॅकडाउन पर काॅलेज बंद हो जाने पर 16 साल की लड़की अपने घर जाने के लिए जहां रास्ते में लगभग 10 लड़को ने उसके साथ जबरन सामूहिक दुष्कर्म किया। जहां इस सामूहिक दुष्कर्म से लड़की पूरी रात बेहोश पड़ी रही, जहां दूसरी सुबह किसी तरह युवती पैदल चल सड़क तक पहुंची। जहां किशोरी को देखकर ग्रामीणो ने परिजनो को सूचित किया। जहां मौके पर किशोरी के पहुंचे परिजन पुलिस को सूचना देते हुए किशोरी को मेडिकल काॅलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया।

जानकारी के अनुसार किशोरी गोपीकांदर प्रखंड क्षेत्र की है, जो दुमका शहर के शिवपहाड़ में किराए के मकान में रहकर एसपी काॅलेज में पढ़ती है। लाॅकडाउन के कारण काॅलेज बंद हो गया था। वाहन बंद होने के कारण 24 मार्च को वह अपनी सहेली के साथ स्कूटी में घर के लिए निकली। जहां उसकी सहेली ने उसे गोपीकांदर के कारूडीह मोड़ के पास छोड़कर अपने घर पाकुड़ जिला की ओर चली गई।

मामले की जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि कारूडीह पहुंचने से पहले उसने अपने परिजनों को फोन किया। शाम होने के बाद भी परिजन नही पहुंचे तो अपने एक दोस्त प्रसन्नजीत हांसदा को फोन किया। जिसके बाद युवक ने अपने एक दोस्त के साथ बाइक लेकर कारूडीह मोड़ पहुंच गया, जहां तीनो बाइक में बैठकर घर के लिए निकले, लेकिन इस बीच प्रसन्नजीत ने घर जाने के रास्ते की जगह दूसरी रास्ते पर बाइक ले जाने लगा। जहां किशोरी के पूछने पर प्रसन्नजीत ने रास्ते में चेकिंग लगे होन की बात कही। जहां कुछ दूरी पर जाकर प्रसन्नजीत ने जंगल के पास बाइक रोक दी और दोनो युवको ने किशोरी के साथ जबरन दुष्कर्म किया। दुष्कर्म के बाद 8 युवक भी पहुंच गए और जान से मारने की धमकी देते हुए चाकू अड़ाकर सभी ने बारी-बारी के साथ किषोरी के साथ दुष्कर्म किया।

दुमका एसपी वाइएस रमेष का कहना है कि छात्रा के साथ गैंगरेप की घटना हुई है। आरोपियों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है। अभी तक किसी कीर गिरफ्तारी नही हुई है। रामगढ़ सामूहिक दुष्कर्म के मामले की जांच के निर्देष दिए गए है।

'
Don't Miss
© all rights reserved
made with NEWSANUPPUR