Responsive Ad Slot

ताजा खबर

latest

हाई एवं हायर सेकेण्ड्री के वार्षिक उत्तर पुस्तिकाओं का केन्द्रीयकृत मूल्यांकन स्थगित कर गृह मूल्यांकन करने म.प्र. कांग्रेस शिक्षक संघ ने सौंपा ज्ञापन

हाई एवं हायर सेकेण्ड्री के वार्षिक उत्तर पुस्तिकाओं का केन्द्रीयकृत मूल्यांकन स्थगित कर गृह मूल्यांकन करने म.प्र. कांग्रेस शिक्षक संघ ने सौंपा ज्ञापन

Wednesday, April 29, 2020

/ by News Anuppur

अनूपपुर। मध्यप्रदेश शिक्षक कांग्रेस अनूपपुर के जिलाध्यक्ष पुरूषोत्तम पटेल द्वारा हाई एवं हायर सेकेण्ड्री स्कूल की वार्षिक परीक्षा 2020 के उत्तर पुस्तिकाओं का केन्द्रीयकृत मूल्यांकन कार्य को स्थगित कर अन्य जिलो की भांति गृह मूल्यांकन कराए जाने हेतु 29 अप्रैल को वाॅटस एप के माध्यम से कलेक्टर अनूपपुर को ज्ञापन सौंपा गया है। जहां ज्ञापन के माध्यम से म.प्र. शिक्षक कांग्रेस के जिलाध्यक्ष ने बताया की लोक स्वास्थ्य एवं लोक हित में नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु सचिव माध्यमिक शिक्षा मंडल भोपाल द्वारा जारी आदेश के अनुपालन में प्रदेश के लगभग सभी जिलों में विषयांकित उत्तर पुस्तिकाओं के प्रथम चरण का मूल्यांकन कार्य गृह मूल्यांकन द्वारा कराया जा रहा है किन्तु खेद का विषय है कि अनवरत जारी लाॅकडाउन के मध्य विषम परिस्थितियों के बावजूद जिला अंतर्गत 25 अप्रैल से केन्द्रीयकृत मूल्यांकन शासकीय उत्कृष्ट उमा विद्यालय अनूपपुर में प्रारंभ करा दिया गया है जो षिक्षक के पूर्णतया जोखम भरा है। उक्त केन्द्रीयकृत कार्य में संलग्न शिक्षक एवं उनका पूरा परिवार अपने भविष्य के प्रति चिंतित है व असुरक्षित महससू कर रहे है। क्योकि वर्तमान में कोविड 19 के संक्रमण की संभावनाओं को पूर्ण रूपेण नही नकारा जा सकता है।  संक्रमण से बचाव के लिए सामाजिक दूरी, व्यक्तिगत सावधानी एवं स्वास्थ्य सुरक्षा अति आवष्यक है जो केन्द्रीयकृत मूल्यांकन के दौरान चाहकर भी संभव नही है। जरा सी असावधानी एवं परिस्थिति जन्य चूक जानलेवा हो सकती है। आवागमन के समुचित साधनों के आभाव में दूरस्थ अंचल के षिक्षक अपने साथी षिक्षको के साथ दो पहिया वाहनों में एक साथ बैठकर आने के लिए मजबूर है। ग्रीन जोन वाले संभाग में दिनों दिन कोरोना वायरस से संक्रमित लोगो की संख्या में उत्तरोत्तर वृद्धि हो रही है। वैसे भी कक्षा 10वीं एवं 12वीं के कुछ विषयों की परीक्षा अभी होनी शेष है जो लाॅकडाउन हटने के बाद संपन्न होनी है एवं द्धितीय चक्र के मूल्यांकन के बाद ही परिणाम की घोषणा होनी है। ऐसी परिस्थिति में जल्दबाजी में केन्द्रीयकृत मूल्यांकन हेतु लिया गया निर्णय षिक्षको के हित में नही है।

जान जोखिम में डालकर जल्दबाजी में मूल्यांकन कार्य पूर्ण कर लेने से संलग्न शिक्षको एवं जिला प्रशासन को प्रृथम से प्रषस्ति पत्र या परितोषिक की पात्रता नही होगी साथ ही हमारे नवीन षिक्षक संवर्ग के साथी विशेष बीमा योजना एवं पेंशन के हक से भी वंचित है, जो चिंतनीय है। जिला प्रशासन के उक्त निर्णय से जिला ही नही बल्कि पूरे प्रांत भर के शिक्षक एवं शिक्षक संगठन क्षेभित एवं आक्रोशित है।

जहां संगठन के माध्यम से मध्यप्रदेश कांग्रेश शिक्षक संघ ने अनुरोध किया है कि उक्त सभी परिस्थितियों पर गंभीरता पूर्वक विचार करते हुए तत्काल मूल्यांकन कार्य स्थगित कर अन्य जिलों की भांति गृह मूल्यांकन हेतु आदेशित करने की मांग की है।

'
Don't Miss
© all rights reserved
made with NEWSANUPPUR