Responsive Ad Slot

ताजा खबर

latest

विंध्या इरेक्टर्स वेयर हाउस सजहा में एसडीएम का औचक निरीक्षक

विंध्या इरेक्टर्स वेयर हाउस सजहा में एसडीएम का औचक निरीक्षक

Tuesday, June 23, 2020

/ by News Anuppur


सजहा वेयर हाउस के संचालक की लापरवाही से 16 हजार 305 क्विंटल गेहूं में लगा कीड़ा
अनूपपुर। अनूपपुर तहसील अंतर्गत स्थित विंध्या इरेक्टर्स प्राइवेट लिमिटेड सजहा वेयर हाउस में सड़े व कीड़े लगे गेहूं को शासकीय उचित मूल्य की दुकानों के माध्यम से गरीबों की थाली तक पहुंचाने के मामले को संज्ञान में लेते हुए कमिश्रर ने मामले की जांच के निर्देश दिए। जहां 22 जून को एसडीएम अनूपपुर कमलेश पुरी, कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी प्रदीप द्विवेदी ने पहुंचकर सजहा गोदाम का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। निरक्षण के दौरान गोदाम के ब्लॉक बी में 8 स्टैक 12750 क्विंटल गेहूं मे कीड़े लग जाने से उन स्टैक को फ्यूमिगेशन ट्रीटमेंट कर अंडर कवर किया गया था,  इसके अलावा ब्लॉक डी में 3 अधूरे गेहॅू के स्टैक की जांच की गई जिसमें गेहूं में घुन लगे होने के कारण खराब पाया गया, जिसका सैम्पल लेकर मौके पर पंचनामा बनाया गया है। जिसके बाद वेयर हाउस अनूपपुर के शाखा प्रबंधक को  अगले दिन 23 जून को प्रस्तुत करने के लिए निर्देशित किया गया।

गोदाम में रखे गेहूं के स्टॉक की दी जानकारी
आकस्मिक निरीक्षक पर पहुंचे एसडीएम कमलेशपुरी ने पूरे मामले में गोदाम के अंदर रखे गेहॅंू के मात्रा की जांच की गई। जहां वेयर हाउस अनूपपुर शाखा प्रबंधक सुश्री प्रीति शर्मा ने गोदाम में भंडारित गेहूं की जानकारी दी, जिसमें गोदाम में 17500 क्विंटल पुराना तथा 45295 क्विंटल नया गेहूं भंडारित होने की जानकारी उपलब्ध कराई गई।

मौके पर नही मिली स्टॉक पंजी संधारित

पूरे मामले की जांच के बाद जब एसडीएम ने विन्ध्या इरेक्टर प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंधक से गोदाम में रखे खाद्यान्न की जानकारी उपलब्ध नही करा सके, इतना ही नही विंध्या इरेक्टर के प्रबंधक से गोदाम के खाद्यान्न से संबंधित स्टॉक पंजी की जांच की गई, जांच में स्टॉक पंजी संधारित नही मिली। जो इस पूरे मामलें में विंध्या इरेक्टर प्राइवेट लिमिटेड के उत्तरदायित्वों पर भी प्रश्रचिन्ह खड़ा कर रहा है।

16 हजार 305 क्विंटल गेहूं कीड़ायुक्त

विंध्या इरेक्टर प्राइवेट लिमिटेड सजहा के वेयर हाउस में    उपलब्ध खाद्यान्न की विधिवत स्टैक वॉर नए व पुराने गेहूं की जानकारी देने के लिए 23 जून को बयान देने निर्देशित किया गया था, जहां 23 जून को बयान में वेयर हाउस प्रबंधक अनूपपुर प्रीति शर्मा ने विंध्या इरेक्टर प्राइवेट लिमिटेड सजहा वेयर हाउस में कुल 62 हजार 926 क्विंटल गेहूं भंडारित है, जिसमें 17555 क्विंटल पुराना गेहूं है, जिनमें 16 हजार 305 क्विंटल गेहूं कीड़ायुक्त होने पर 12750 क्विंटल गेहूं का ट्रीटमेंट किया गया है तथा 3555 क्विंटल गेहूं का ट्रीटमेंट किया जाना शेष है। वहीं फ्यूमिगेशन ट्रीटमेंट कर अंडर कवर किया गेहूं को 27 जून को खोला जाकर आगे की कार्यवाही की जाएगी। वहीं वेयर हाउस प्रबंधक ने बयान पर बताया कि विंध्या इरेक्टर्स प्राइवेट लिमिटेड सजहा वेयर हाउस के प्रबंधक की लापरवाही से गेहूं खराब हुआ है, जहां प्रबंधक द्वारा समय-समय पर गोदाम में भंडारित गेहूं का कीटोपचार नही किया गया है।

कब तक चलेगा ट्रीटमेंट का खेल

पूरे मामलें में जहां कीडेयुक्त खाद्यान्न के खराब हो जाने पर  उन खाद्यान्नों को अपग्रेड करने का खेल खेला जाता है, इसके पूर्व भी चावल के अपग्रेड का खेल जिले में जमकर खेला गया और गुणवत्ता विहीन चावल की खेप को उचित मूल्य की दुकान में भेज कर गरीबो की थाली में पहुंचाया दिया गया था। इसी तर्ज में अब गेहूं के ट्रीटमेंट के नाम पर कीड़ायुक्त खराब गेहूं के 5 से 10 बोरी को अच्छे गेहूं के बोरियों के साथ मिलाकर उचित मूल्य की दुकान भेज दिया जाता है। जहां इस माह में लगभग 7 से 8 दुकानों में कीडेयुक्त खराब गेहूं पहुंचने पुन: कीड़ेयुक्त गेहूं को वापस सजहा वेयर हाउस भेजा जा चुका है। वहीं अब भी कई दुकानों में खराब गेहूं वापस आने के लिए रखा है।

बी ब्लॉक में रखे अंडर कवर गेहूं की होगी जांच

सड़ा व कीड़ायुक्त गेहूं की जांच में वेयर हाउस सजहा पहुंचे एसडीएम ने जांच में पाया कि ब्लॉक बी मे रखे 8 स्टैक गेहूं में कीड़े लग जाने से फ्यूमिगेशन ट्रीटमेंट कर अंडर कवर किया गया था। जहां फ्यूमिगेशन ट्रीटमेंट पर अंडर कवर हटाना उचित नही होने के कारण इन 8 स्टैक गेहूं की एक सप्ताह बाद गेहूं के स्टैक से अंडर कवर हटाए जाने के एक सप्ताह बाद उन स्टेक की पुन: जांच की जाएगी।

इनका कहना है
निरीक्षण में 16 हजार 305 क्विंटल कीड़ायुक्त गेहूं मिला है, जिसका प्रतिवेदन बनाकर कलेक्टर को कार्यवाही हेतु प्रेषित किया जाएगा।
कमलेश पुरी, एसडीएम अनूपपुर

'
Don't Miss
© all rights reserved
made with NEWSANUPPUR