Responsive Ad Slot

ताजा खबर

latest

भाजपा ने आगामी विधानसभा अनूपपुर उप चुनाव की प्रारंभिक तैयारियों एवं कार्ययोजनाओं पर की प्रेसवर्ता

भाजपा ने आगामी विधानसभा अनूपपुर उप चुनाव की प्रारंभिक तैयारियों एवं कार्ययोजनाओं पर की प्रेसवर्ता,

Monday, June 8, 2020

/ by News Anuppur

नेतृत्व विहीन कांग्रेस पार्टी के पास चुनाव लड़ने नही है कोई मुद्दा, कांग्रेस के जिलाध्यक्ष एवं ब्लाॅक अध्यक्ष भाजपा के लिए करेंगे काम
अनूपपुर। विंध्य की एक मात्र सीट विधानसभा अनूपपुर के उप चुनाव की तैयारियों को लेकर भारतीय जनता पार्टी के प्रदेष के नेतृत्व में म.प्र. सरकार के पूर्व मंत्री एवं चुनाव प्रभारी राजेन्द्र शुक्ला ने प्रेस वर्ता की गई , इस दौरान भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष रामलाल रौतेल, पूर्व विधायक एवं पूर्व मंत्री बिसाहूलाल सिंह, जिलाध्यक्ष बृजेश गौतम, पूर्व जिलाध्यक्ष अनिल गुप्ता, रामदास पुरी, सिद्धार्थ शिव सिंह उपस्थित रहे। वहीं अनूपपुर विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर राजेन्द्र शुक्ला ने बताया कि आगामी चुनाव की रणनीति के तहत प्रदेश उपाध्यक्ष रामलाल रौतेल को चुनाव संचालक, पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष रामदासपुरी को चुनाव संगठन एवं सिद्धार्थ शिव सिंह को सह संयोजक की कमान सौंपी गई है, वहीं अभी पार्टी का कोर गु्रप बनाया जाना है। जिसके लिए आज भी भाजपा पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं की बैठक की जाएगी। उन्होने बताया कि 15 महीने तक रहे कमलनाथ सरकार के कारण प्रदेश की जनता में हाहाकार मच गया। जहां कांग्रेस के विधायको को लगने लगा की इस प्रकार सरकार चलती रही तो हम जनता के सामने कैसे खड़े हो पाएगें। कमलनाथ सत्ता के गलियारे के नेता रहे है, इसलिए अपने लोगो को संभाल नही सके है और सरकार गिर गई। कांग्रेस में वरिष्ठ नेताओं के प्रति इस तरह के व्यवहार के कारण ही आज कांग्रेस के वरिष्ठा नेताओं ने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की है। भाजपा संगठन के दम पर चुनाव लड़ती है, हमारे यहां कोई व्यक्ति चुनाव नही लड़ता बल्कि कार्यकर्ता चुनाव लड़ते है। उन्होने कहा कि कांग्रेस के 15 महीनो की सरकार में विकास के गति अवरूद्ध हो गई थी, जिसे भाजपा उसी गति को दौड़कर पूरा करेगी।
कट्टर कांग्रेसी होते हुए मैने पार्टी क्यों छोड़ी- बिसाहूलाल
पूर्व मंत्री एवं पूर्व विधायक बिसाहूलाल सिंह ने बताया की मै कट्टर कांग्रेसी था, लेकिन कांग्रेस पार्टी क्यो छोड़ी इसे बताना चाहूॅंगा। बिसाहूलाल सिंह ने कहा कि 80 में पहली बार मैने चुनाव लड़ा उस समय मुझे टिकट इंदिरा गांधी ने दी थी, उसी समय कमलनाथ जी ने भी चुनाव लड़ा था। जब अभी कांग्रेस की सरकार आई और जितने भी लोगो को मंत्रीमंडल में शामिल किया गया वो सब एक या दो बार के विधायक रहे है। वहीं जब हम 15 पार्टी के वरिष्ठ लोगो को शामिल नही किया गया तो हम सभी ने ऑल इंडिया कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी से मिलने गए और उनसे अपनी द्वारा की गई गलती का कारण पूछा। जिसके बाद राहुल गांधी ने तत्काल अपने पीएम को बुलाकर मंत्री मंडल के गठन की सूची दिखाई, जिसमें उनके हस्ताक्षर भी थे। उस सूची में मेरा नाम तीसरे स्थान पर तथा कई पार्टी के वरिष्ठ लोगो के नाम थे। जहां राहुल गांधी ने हमारे साथ हुए अन्याय को स्वीकारा और हमें सोनिया गांधी के सलाहकार अहमद पटेल से पास मिलने भेजा। जहां हम सभी पार्टी के वरिष्ठ लोगो ने अहमद पटेल से मिले, जिसके बाद अहमद पटेल ने दिग्विजय सिंह और उस समय के प्रभारी को बुलाकर राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा बनाई गई सूची से नाम काट देने के संबंध में पूछा, तब उन्होने अपनी गलती मान ली और एक माह के अंदर सभी पार्टी के वरिष्ठ लोगो को मंत्री मंडल में शामिल करने की बात कही गई।
कांग्रेस पार्टी नेतृत्व विहीन
बिसाहूलाल सिंह ने बताया की कांग्रेस पार्टी नेतृत्व विहीन है। जिसके कारण हम सभी लोगो ने सोचा की आज इंदिरा गांधी नही है, राजीव गांधी नही है, आज जब राष्ट्रीय अध्यक्ष की बात प्रदेश के नेता नही मान रहे है, तो हमारी कौन सुनेगा। बिसाहूलाल सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विज सिंह पर भी निशाना साधते हुए कहे कि वे अपने पुत्र को मुख्यमंत्री के दौड़ में शामिल करना चाहते थे, इसके लिए इस बार मंत्री मंडल के गठन पर राज्य मंत्री न बनाकर सभी को सीधे कैबिनेट मंत्री बना दिया। जिससे अगली बार उनके पुत्र मुख्यमंत्री के दौड़ में शामिल हो सके। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान ने कहा था कि हम सरकार नही गिराएगें, इनकी सरकार अपने आप गिर जाएगी, उनकी बात सही निकली। वहीं सिंधिया जी जब किसानो की लड़ाई और चुनाव के समय किए गए वादों को पूरा करने कमलनाथ के पास गए तो उन्होने उन्हे कोई काम नही होने की बात कहते हुए कह दिया कि जाओं आंदोलन करों। जब इतने बड़े नेता की अपनी ही पार्टी में कोई इज्जत नही रही तो हमारी कौन करता। बिसाहूलाल सिंह ने कहा कि कांग्रेस सरकार को आदिवासियों से कोई प्रेम नही है, आज प्रदेश में 30 से अधिक विधायक ट्रायबल है। लेकिन उनका सुनता कौन है। कमलनाथ सरकार ने बेरोजगारी भत्ता 4 हजार रूपए प्रत्येक माह देने का वादा किए थे किसी को बेरोजगारी भत्ता नही मिला, किसानो का कर्ज 2 लाख तक माफ करने की घोषणा की थी लेकिन किसी किसान का 2 लाख का कर्ज माफ नही हुआ।
कांग्रेस के पास चुनाव लड़ने का नही है कोई मुद्दा
बिसाहूलाल सिंह ने कहा कि हमारे पास चुनाव लड़ने के लिए मुद्दे है, जिला मुख्यालय के रेलवे ओव्हर ब्रिज का मुद्दा जिसमें पूर्व में बनाए गए मैप गलत होने के कारण देरी हुई थी, जिसे सुधार दिया गया है। वहीं रेलवे के जीएम ने अब एप्रुवल भी दे दिया है, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने मुझसे वादा किया है कि जब वे अनूपपुर आएगे तो सबसे पहले रेलवे ओव्हर ब्रिज का कार्य प्रारंभ होगा, मेरे द्वारा जैतहरी से लेकर जमुना परासी मार्ग लागत 33 करोड़ रूपए स्वीकृत हो गया है, धनपुरी में 6 करोड की लागत से बांध की स्वीकृति एवं अनूपपुर से कांसाकोड़ा मार्ग की स्वीकृति के साथ ही चचाई में 660 मेगावाॅट पावर प्लांट सेंशन हुआ है। हमारे द्वारा जिले के विकास को आगे बढ़ाने के लिए कार्य किए है और उसे पूरा करेंगे। हमारे पास मुद्दे है लेकिन कांग्रेस के पास कोई मुद्दा नही है। जिले में कुछ लोगो ने मुझ पर 34 करोड़ रूपए लेने का अफवाह उड़ाया है। जिसे कांग्रेस सिर्फ एक मुद्दा बनाकर चुनाव में सामने ला रही है। बिसाहूलाल सिंह ने कहा कि कमलनाथ ऐसे मुख्यमंत्री रहे है जो गगन बिहारी है, जो भोपाल से होषगाबाद, भोपाल से सिहोर तथा भोपाल से छिंदवाड़ा कभी बाईरोड नही गए वो तो गगन बिहारी है जो सीधे ऊपर से ही उड़कर सभी समस्याओं को देख लेते है।
कांग्रेस जिलाध्यक्ष व ब्लाॅक अध्यक्ष भाजपा के लिए करेंगे काम
पूर्व विधायक एवं पूर्व मंत्री बिसाहूलाल सिंह प्रेस वर्ता के दौरान चैकाने वाली बात को भी उजागर कर दिया, जहां उन्होने बताया की मै आप लोगो को आश्वाश्त कर देता हॅू कि कांग्रेस के जिलाध्यक्ष जयप्रकाश अग्रवाल जिसे मैने 13 साल तक कांग्रेस का जिलाध्यक्ष बनाया और मेरे साथ कंधे से कंधे मिलाकर काम किए है आज वो कांग्रेस के साथ काम कर रहे है। लेकिन मै आप लोगो को आश्वश्त कर देता हॅू कि अनूपपुर कांग्रेस जिलाध्यक्ष जयप्रकाश अग्रवाल और ब्लाॅक अध्यक्ष अनूपपुर करतार सिंह कांग्रेस में रहते हुए भारतीय जनता पार्टी के लिए काम करेंगे और बाद में मै उनको भी भाजपा की सदस्यता दिलवाउंगा।
तीन सैकड़ा कांग्रेसियो ने ली भाजपा की सदस्यता
भाजपा जिलाध्यक्ष बृजेश गौतम ने कहा कि 6 जून को बिसाहूलाल सिंह के भोपाल से आने के बाद 7 जून को परासी स्थित बिसाहूलाल के घर में लगभग 200 एवं जमुना में 100 कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा की सदस्यता ले ली है। इतना ही नही पसान नगरपालिका अध्यक्ष सुमन गुप्ता एवं उनके पति राजू गुप्ता, जैतहरी नगर पंचायत अध्यक्ष नवरत्नी शुक्ला एवं पति विजय शुक्ला सहित अनूपपुर नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष रामखेलावन राठौर ने भी कांग्रेस पार्टी छोड़ भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है। जिलाध्यक्ष बृजेष गौतम ने बताया की आगामी चुनाव की रणनीति के तहत एक सप्ताह तक नगर पालिका के वार्डो एवं ग्रामीण क्षेत्रों में जाएगें, जहां बिसाहूलाल सिंह इस दौरान प्रत्येक दिन 100-100 कांग्रेस कार्यकर्ताओं को भाजपा की सदस्यता दिलाकर उसकी सूची मीडिया को प्रत्येक दिन शाम 6 बजे तक उपलब्ध कराएगें।
रामलाल ने दिलाया भरोसा
भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष रामलाल रौतेल पर उठ रहे सवालों को लेकर उन्होने मीडिया के सामने स्पष्ट किया कि वह बिसाहूलाल सिंह को होने वाले उपचुनाव में जीत दिलाने के लिए वे पूरी ताकत के साथ काम करेगें, उनके ऊपर जो भी लोग संदेह कर रहे है वह गलत है। उनका कहना है कि भाजपा के कार्यकर्ताओं को ही उनके ऊपर संदेह था, लेकिन मैने उन्हे पहले ही स्पष्ट कर दिया है। भाजपा ने उन्हे इतना कुछ दिया है कि वह कभी जीवन में भाजपा छोड़ने की सोच भी नहीं सकते। सभी कार्यकर्ताओं से बिसाहूलाल को जिताने के लिए अभी से मैदान में उतर जाने के लिए कहा तथा सभी को भरोसा दिया कि वह पूरी निष्ठा के साथ बिसाहूलाल के साथ है और उन्हे जीत दिलाएगें।

'
Don't Miss
© all rights reserved
made with NEWSANUPPUR