Responsive Ad Slot

ताजा खबर

latest

5G की वजह से तो नहीं फैल रहा है कोरोना वायरस, जानिए सच्चाई

5G की वजह से तो नहीं फैल रहा है कोरोना वायरस, जानिए सच्चाई

Thursday, May 6, 2021

/ by News Anuppur


नई दिल्ली।
कोरोना वायरस फैलने को लेकर कई तरह के दावे किये जा रहे हैं। ऐसा ही एक दावा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर हो रहा है कि 5G रेडियो तरंगो की वजह से कोरोना वायरस फैल रहा है। इन दावों की हकीकत जानने के लिए हमनें The Dialouge के फाउंडिंग डायरेक्टर Kazim Rizvi से बातचीत की है। काजिम रिजवी की मानें, तो शुरुआत में ही यह स्पष्ट करने की आवश्यकता है कि कुछ सोशल मीडिया पोस्ट जो दावा करते हैं कि Covid-19 की दूसरी लहर और 5G परीक्षण के बीच कोई सम्बन्ध है वो पूरी तरह से निराधार हैं।

वायरस रेडियो तरंगों या मोबाइल नेटवर्क से नहीं करते यात्रा

रिजवी ने बताया कि यह पहले से ही विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) सहित कई संगठनों की ओर से स्थापित किया गया है कि 5G तकनीक का स्वास्थ्य पर कोई प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ता है। WHO ने Covid ​और 5G पर विशेष रूप से कहते हुए पहले ही इस दावे को खारिज कर दिया है और कहा है कि वायरस रेडियो तरंगों या मोबाइल नेटवर्क के माध्यम से यात्रा नहीं कर सकते हैं। सोशल मीडिया पर किए जा रहे दावों के पास इसका समर्थन करने के लिए कोई सबूत नहीं है। इसके अलावा, भारत में 5G परीक्षण अभी भी एक शुरुआती अवस्था में हैं और छोटे स्तर पर किए जा रहे हैं। इसलिए, इन दावों को कोई महत्व नहीं दिया जाना चाहिए।

5G का है अहम रोल 

जहां तक 5G तकनीक का सवाल है, इसमें कोई संदेह नहीं है कि स्थानीय और वैश्विक डिजिटल बुनियादी ढांचे के विकास में इसकी प्रमुख भूमिका है। स्मार्ट शहरों के निर्माण की संभावना 5G की वजह से तो नहीं फैल रहा है कोरोना वायरस, जानिए सच्चाई प्रौद्योगिकी के आधार पर आधारित है जो इंटरनेट ऑफ थिंग्स (iOT) का एक प्रमुख प्रवर्तक है। यह तकनीक डेटा गहन मशीनों के साथ-साथ स्वचालित उद्योगों के विकास का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है।हालांकि, भारत अभी भी 5G परीक्षणों के अपने शुरुआती चरण में है और 5G बुनियादी ढांचे को विकसित करने के लिए आगे एक लंबी दूरी तय करनी है, जिसमें इस तकनीक को जमीनी स्तर पर लाने के लिए भारी निवेश के साथ-साथ नीति और नियामक समर्थन की आवश्यकता होगी। वर्तमान बोझिल और असमान अनुपालन दायित्वों के साथ-साथ नियामक बाधाएं देश में इसके बुनियादी ढांचे के निर्माण में देरी के प्राथमिक कारणों में से एक हैं। 5G इंफ्रास्ट्रक्चर का तेजी से और प्रभावी विकास करने के लिए दूरसंचार कंपनियों पर बढ़ते बोझ को कम करने के साथ-साथ एक सही नियामक दृष्टिकोण की आवश्यकता है।

No comments

Post a Comment

'
Don't Miss
© all rights reserved
made with NEWSANUPPUR