Responsive Ad Slot

ताजा खबर

latest

अंधी हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, आरोपी गिरफ्तार

मंगलवार, 15 मई 2018

/ by News Anuppur
शादी तोडने दवाब बना रही थी प्रेमिका, प्रेमी ने हत्या कर दूसरे दिन कर ली शादी
अनूपपुर। जैतहरी थाना अंतर्गत ९ मई को ग्राम ठोडीपानी के गड्डाटोला में बीच खेत पर युवती सोना राठौर पिता कल्लू प्रसाद का शव मिलने की सूचना सरपंच द्वारा पुलिस को दी गई, जहां सूचना मिलते ही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक वैष्णव शर्मा, एसडीओपी अनूपपुर उमेश गर्ग सहित थाना प्रभारी जैतहरी डी.के. दाहिया अपने स्टॉफ सहित घटना स्थल पहुंचे। जहां शव के निरीक्षण पर मृतिका के गले में निशान देखा हत्या की संभावना जताई। जहां पुलिस ने पंचनामा तैयार कर शव को पीएम के लिए अस्पताल भेजा गया। वहीं पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच में जुट गई।
युवती का गला दबा की हत्या
वहीं पीएम रिपोर्ट में मृतिका सोना राठौर की गला दबाकर हत्या होना पाए जाने पर पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार जैन के मार्गदर्शन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक वैष्णव शर्मा के निर्देशन में में एसडीओपी अनूपपुर उमेश गर्ग के नेतृत्व में निरीक्षक डी.के. दाहिया सहित टीम गठित कर अज्ञात आरोपियो की तलाश में जुट गई। इस बीच मृतिका  का संबंध भगवान दास उर्फ भोग्गल निवासी पिता रामकुमार राठौर उम्र २७ वर्ष निवासी चोरभटी के साथ होने की जानकारी लगी। जिस पर पुलिस द्वारा भगवानदास को गिरफ्तार करते हुए सख्ती के साथ पूछताछ की गई, जिस पर उसने अपना जुर्म कबूल किया।
शादी तोडने के दवाब पर प्रेमिका की हत्या
पुलिस द्वारा सख्ती के साथ ही गई पूछताछ पर भगवानदास  उर्फ भोग्गल ने अपना जुर्म कबूल करते हुए बताया कि पिछले ३ वर्षो से प्रेम संबंध मृतिका सोना राठौर के साथ थे तथा मृतिका उससे शादी के लिए टालमटोल कर रही थी, इस बीच भगवान दास की शादी ग्राम भगतबांध में ११ मई को तय हो गई। जहां सोना देवी राठौर ने भगवानदास से अपनी शादी तोडने के लिए युवक पर बार-बार दवाब बनाने लगी। इस बात को लेकर भगवानदास उर्फ भोग्गल घटना दिनांक की रात लगभग ८ बजे मृतिका सोना राठौर    को पंचायत भवन के पास बुलाया , जहां भगवानदास ने दुप्पटे से गला दबाकर उसकी हत्या कर दी और शव को खेत में घसीट कर फेंकने के बाद मोटर साईकिल से वापस अपने घर चोरभठी चला गया और शादी भगतबांध में कर ली।
इन्होने सुलझाई अंधी हत्या की गुत्थी
अंधी हत्या की गुत्थी सुलझाने में एसडीओपी अनूपपुर उमेश गर्ग, जैतहरी निरीक्षक डी.के. दाहिया, उप निरीक्षक के.एल. बंजारे, सहायक उप निरीक्षक रंगनाथ मिश्रा, आरक्षक प्रदीप पांडेय, विरेन्द्र ङ्क्षसह, शिव शंकर, खेमराज मार्को, एसएएफ आरक्षक गुड्डा प्रसाद का प्रयास सराहनीय रहा। वहीं पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार जैन ने सभी को नगद पुरूस्कार देने की घोषणा की।

कोई टिप्पणी नहीं

एक टिप्पणी भेजें

'
Don't Miss
© all rights reserved
made with NEWSANUPPUR