Responsive Ad Slot

ताजा खबर

latest

Anuppur News : ईंट प्लांट पर अवैध कब्जा को लेकर चाचा ने भतीजे पर फावड़ा से किया हमला, दो गंभीर

Anuppur News : ईंट प्लांट पर अवैध कब्जा को लेकर चाचा ने भतीजे पर फावड़ा से किया हमला, दो गंभीर

Sunday, June 13, 2021

/ by News Anuppur


प्लांट संचालक के आधा दर्जन शिकायतो पर पुलिस रही मौन, बना विवाद का कारण

अनूपपुर। कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत वार्ड क्रमांक 9 में चाचा ने अपने सगे भतीजे के सीमेंट ईंट प्लांट पर अवैध कब्जा कर जान से मारने, झूठे मामलो में फंसा देने, प्लांट में कार्य बाधित करने की लगातार धमकी देने पर शंकर राठौर एवं पुत्र ज्ञानेन्द्र राठौर ने पुलिस अधीक्षक एवं कोतवाली अनूपपुर में शिकायत दर्ज करवाई गई। लेकिन लगातार शिकायतों के बाद पुलिस की उदासीनता बरते हुए मामले में किसी तरह का ध्यान नही दिया गया, जिसके कारण 11 जून की शाम 7 बजे सीमेंट ईंटा प्लांट पहुंचे प्लांट संचालक ज्ञानेन्द्र राठौर पर उसके सगे चाचा सीताराम राठौर व पुत्र विवेक राठौर, पत्नी बिट्टी बाई राठौर एवं बेटी ऊषा राठौर ने धारदार हथियार से अचानक हमला कर दिया, जहां दो लोगो को गंभीर चोटे आई है। दोनो पक्षों में हुए विवाद के बाद पुलिस ने दोनो पक्षों के खिलाफ मामला पंजीबद्ध किया गया है। लेकिन इस पूरी कार्यवाही में कोतवाली पुलिस पर कई सवाल खड़े हो गए है। इस पूरे मामले में पुलिस ने ज्ञानेन्द्र राठौर के खिलाफ उसके खुद के प्लांट में होने पर धारा 452 के तहत अपराध पंजीबद्ध करना कोतवाली पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़ा कर रहा है।

यह था मामला

लगातार पुलिस अधीक्षक एवं कोतवाली अनूपपुर से अपनी जान का खतरा होने पर सुरक्षा हेतु कई शिकायतो के बाद भी किसी तरह का ध्यान नही दिए जाने का नतीजा 11 जून की शाम सामने आया, जहां चाचा ने सगे भतीजे व उसके दोस्त पर धारदार हथियार से वार कर जान से मारने का प्रयास किया गया। जबकि मामले में ज्ञानेन्द्र सिंह राठौर ने उसके परिवार के लोगो को झूठे मामले में फंसाने की धमकी देने पर कोतवाली अनूपपुर में 3 फरवरी को, शंकर प्रसाद राठौर ने कोतवाली अनूपपुर में झूठे संगीन मामलों में फंसा देने की धमकी पर शिकायत 17 फरवरी को, ईंटा प्लांट में कार्य बाधित करने एवं धमकी देने पर पुलिस अधीक्षक के नाम शिकायत 15 अप्रैल को, ईटा प्लांट का काम बंद करवाने एवं मुकदमा वापस लेने की धमकी पर कोतवाली अनूपपुर में 10 जून को तथा ज्ञानेन्द्र राठौर के मित्र गंगाराम पटेल के बीचबचाव करने पर फर्जी मामले में फंसाने की धमकी देने की लिखित शिकायत दर्ज करवाई गई थी। लेकिन पूरे मामले में पुलिस द्वारा सभी शिकायतो पर गंभीरता नही दिखाए जाने पर 11 जून की शाम को अचानक हमला कर धारदार हथियार से घायल कर दिया गया। 

पूर्व मे भी की गई थी मारपीट, मामला हुआ था पंजीबद्ध 

ज्ञानेन्द्र राठौर पिता शंकर प्रसाद राठौर उम्र 27 वर्ष निवासी वार्ड क्रमांक 15 पुरानी बस्ती अनूपपुर के साथ सीताराम राठौर पिता गोपाल प्रसाद राठौर ने रास्ता रोक कर अपशब्दो का प्रयोग करते हुए मारपीट करने पर कोतवाली अनूपपुर में 6 फरवरी को शिकायत दर्ज करवाई थी। जिस पर कोतवाली पुलिस ने सीताराम राठौर के खिलाफ धारा 341, 294, 327, 323, 506 के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया था। उसके बाद दोबारा सीताराम राठौर सहित उनकी पत्नी एवं बेटे द्वारा ज्ञानेन्द्र सिंह के फ्लाई एस ब्रिक्स के प्लांट का काम बंद करवाते हुए मुकदमा वापस लिए जाने की धमकी दी जाने लगी। जिसकी शिकायत ज्ञानेन्द्र सिंह ने 10 जून को कोतवाली अनूपपुर मंे जान का खतरा देखते हुए शिकायत दर्ज कराई थी। 

बैंक से ऋण लेकर संचालित किया था ईट प्लांट 

ज्ञानेन्द्र सिंह राठौर ने वर्ष 2016 में इलाहाबाद बैंक अनूपपुर से पीएमईजीपी योजना अंतर्गत 25 लाख का ऋण लेकर खसरा नंबर 1025/1, 1041, 1025/3040 जो कि ग्राम हल्का अनूपपुर में स्थित है एवं प्रार्थी कि पिता एवं चाचा के सह स्वामित्व की भूमि है में फ्लाई एश ब्रिक्स का उद्योग प्रारंभ किया था। उद्योग प्रारंभ करने के लिए बैंक के आवश्यक दस्तावेज जैसे मार्टगेज एवं सहमति पत्र में प्रार्थी के चाचा के हस्ताक्षर भी है। चार माह पूर्व तक प्रार्थी उद्योग को सुचारू रूप से संचालित कर रहा था एवं बैंक के किस्तों की अदायगी भी नियमित रूप से कर रहा था। लेकिन उसके बाद से चाचा सीताराम राठौर, उनकी पत्नी एवं बेटे प्लांट में आकर मारपीट एवं मजदूरों के साथ अपशब्दों का प्रयोग करते हुए पैसों की मांग करने लगे। जिसके बाद से लगातार मेरे परिवार को झूठे मामले मे फंसाने एवं प्लांट में अपना कब्जा करने की नियत से आए दिन विवाद करने लगे। 

बुआ की जमीन हड़पने की मारपीट

21 मार्च को विमला राठौर पति हीरालाल राठौर उम्र 36 वर्ष सहित उनकी अन्य दो बहनों चंदा राठौर व सुनीता राठौर के साथ अपने खेत की बाउंड्री कर रहे थे, उसी समय सीताराम राठौर का पुत्र विवके राठौर, पत्नी बिट्टी राठौर एवं पुत्री ऊषा राठौर द्वारा जमीन पर अवैध कब्जा को लेकर तीनो महिलाओं पर अचानक फावड़ा से हमला कर दिए थे। जिसका वीडियों सोशल मीडिया में जमकर वाॅयरल हुआ था। जिसकी शिकायत पर कोतवाली पुलिस ने तीनों के खिलाफ धारा 294, 323, 506, 34 के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया था।


No comments

Post a Comment

'
Don't Miss
© all rights reserved
made with NEWSANUPPUR